VIKLANG PENSION YOJANA KYA HAI विकलांग पेंशन योजना क्या है पूरी जानकारी हिंदी में

VIKLANG PENSION YOJANA KYA HAI विकलांग पेंशन योजना क्या है पूरी जानकारी हिंदी में

VIKLANG PENSION YOJANA KYA HAI विकलांग पेंशन योजना क्या है पूरी जानकारी हिंदी में 



विकलांग पेंशन योजना  क्या है  हैं (VIKLANG PENSION YOJANA KYA HAI ) विकलांग पेंशन योजना के क्या लाभ हैं विकलांग पेंशन योजना में दस्तावेज़ कोनसे लगते हैं, विकलांग पेंशन योजना ऑनलाइन करने का तरीका क्या है, इन सभी सवालों का जवाब आज की इस पोस्ट में हम आप को बताने वाले है,  आप हमारी पोस्ट को पूरा पढ़ें क्योंकि हम इस पोस्ट में  आपको डीटेल में  जानकारी देने जा रहे हैं। यह जानकारी आप के लिए बहुत जरूरी है, जिससे आपको अच्छा ज्ञान मिलेगा आपको यह पोस्ट बहुत पसंद आएगी इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको विकलांग पेंशन योजना के क्या लाभ हैं विकलांग पेंशन योजना में दस्तावेज़ कोनसे लगते हैं विकलांग पेंशन योजना ऑनलाइन करने का तरीका क्या है आपको सब पता चल जायेगा आप इस पोस्ट को पूरा पढ़ें और अपने  दोस्तों में  भी शेयर करें जिससे उन्हें भी विकलांग पेंशन योजना के क्या लाभ हैं, विकलांग पेंशन योजना में  दस्तावेज़ कोनसे लगते हैं, विकलांग पेंशन योजना ऑनलाइन करने का तरीका क्या है, इसके  के बारे में  डिटेल में जानकारी मिल सके

Content  -  

  • विकलांग पेंशन योजना क्या है
  • दिव्यांगजन विकलांग  
  • विकलांग पेंशन योजना का उद्देश्य 
  • विकलांग पेंशन योजना की पात्रता 
  • विकलांग पेंशन योजना के दस्तावेज 
  • विकलांग पेंशन योजना ऑनलाइन करने का तरीका
  • विकलांग कुष्ठ अवस्था पेंशन योजना क्या है
  • कुष्ठ योजना की  पात्रता
  • कुष्ठ रोग योजना दस्तावेज
  • कुष्ठ अवस्था योजना का लाभ
  • कुष्ठ अवस्था योजना का उद्देश्य
  • कुष्ठ योजना की  पात्रता
  • कुष्ठ अवस्था योजना ऑनलाइन करने का तरीका




विकलांग पेंशन योजना क्या है

विकलांग पेंशन योजना क्या हैं 

  विकलांग पेंशन योजना क्या है:-

  1.  उत्तर प्रदेश में विकलांग पेंशन योजना में 40 % प्रतिशत या उससे अधिक दिव्यांगता वाले व्यक्ति जैसे मानसिक शारीरिक  दृष्टि बाधित के जीवन यापन के लिए न तो कोई साधन है और ना ही किसी प्रकार  का परिश्रम कर सकते हैं , जिनकी आय गरीबी रेखा वर्तमान समय में ग्रामीण क्षेत्र में 46080 व  शहरी क्षेत्र में 56460 प्रति परिवार हर  वर्ष की सीमा के अंदर आते हैं, उन परिवार के दिव्यांगजनो  को इस योजना का लाभ दिया जाता है, जिससे इनके जीवन यापन भरण पोषण में सहायता मिले दिव्यांग सशक्तिकरण विभाग द्वारा दिव्यांग जनों के भरण-पोषण अनुदान योजना के अंतर्गत 500 रू प्रति माह हर लाभार्थी को अनुदान दिया जाता है, जिससे दिव्यांग, विकलांगों को सहायता मिलती है ।


दिव्यांगजन विकलांग पेंशन योजना के लाभ 
:-


2. इस योजना से दिव्यांगजनो  व विकलांगों को काफी सहायता मिलती है , इस योजना के अंतर्गत विकलांग जनों को 500 रूपये प्रति माह लाभ सरकार द्वारा प्रदान किया जाता है, इस योजना से दिव्यांगजनो  को जीवन यापन में आर्थिक सहायता मिलती है, और उन्हें किसी पर बोझ नहीं बनना पड़ता है वह काफी हद तक इससे अपनी आजीविका चला लेते हैं, यह सरकार का एक अच्छा कदम है



 विकलांग पेंशन योजना का उद्देश्य :-


विकलांग पेंशन योजना का उद्देश्य विकलांग जन को सशक्त आत्मनिर्भर बनाना है , जिससे उन्हें अपने परिवार या किसी दूसरे व्यक्ति पर निर्भर न रहना पड़े और दिव्यांग व्यक्ति पेंशन के द्वारा अपनी जीविका चला सके क्योंकि समाज में दिव्यांग व्यक्तियों को बोझ समझा जाता है, और  दिव्यांग व्यक्ति कोई शारिरिक कार्य भी नहीं कर पाते हैं इसलिए यह योजना दिव्यांगजनो के लिए बहुत  सहायक है


 योजना की पात्रता 
:-


  1. लाभार्थी उत्तर प्रदेश का निवासी होना चाहिए
 2.  अगर लाभार्थी किसी अन्य योजना का लाभ ले रहा है तो उसे योजना  का लाभ नहीं दिया जाएगा क्योंकि वह उसमें पात्र नहीं है।
  3.  लाभार्थी गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहा  हो

 

दस्तावेज :-


1.  कम से कम 40%   दिव्यांगता  का प्रमाण पत्र

2.  आधार कार्ड

3. गरीबी रेखा से नीचे आय प्रमाण पत्र

4.  बैंक पासबुक,  ग्राम सभा प्रस्ताव

5.  पासपोर्ट साइज फोटो

6.  मोबाइल नंबर 



विकलांग कुष्ठ अवस्था पेंशन योजना क्या है :-


 विकलांग  कुष्ठावस्था योजना के अंदर त्वचा व  आंखों आदि के भयंकर रोग आते हैं, कुष्ठ रोग के कारण दिव्यांग हुए व्यक्ति जो  उत्तर प्रदेश के मूल निवासी हों जिनकी आय ग्रामीण क्षेत्र में 46080 तथा शहरी क्षेत्र 56400 प्रति परिवार प्रति वर्ष  की सीमा के अंदर एवं शासन द्वारा अन्य किसी पेंशन का लाभ प्राप्त ना कर रहे हो, प्रदेश से संबंधित जनपद के मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा जारी  दिव्यांग का प्रमाण पत्र उसमें दिव्यांगता चाहे कितने भी प्रतिशत हो  दिव्यांग  को 2500 रू0 प्रति माह प्रति लाभार्थी को सहायता अनुदान दिया जाता है,   इस योजना से  विकलांग दिव्यांगों को काफी सहायता प्राप्त हुई  


कुष्ठ रोग योजना दस्तावेज :-

 1.कुष्ठ रोग के कारण दिव्यांगता प्रमाण पत्र,दिव्यांगता प्रतिशत  की कोई सीमा नहीं 

 2.  गरीबी रेखा से नीचे  आय प्रमाण पत्र

3.  आयु की कोई सीमा नहीं

4. बैंक पासबुक की छायाप्रति, ग्राम सभा प्रस्ताव

5. आधार कार्ड

6. पासपोर्ट साइज फोटो 

7. मोबाइल नंबर


 कुष्ठ अवस्था योजना का लाभ :-

 1.योजना का लाभ पाने के लिए sspy-up.gov.in पर दिव्यांग को अपना रजिस्ट्रेशन करना पड़ेगा उसके बाद जिला दिव्यांग जन सशक्तिकरण अधिकारी द्वारा दिव्यांग को इस योजना का लाभ दिया  जाएगा 

2.  योजना में लाभ लेने के लिए आयु की कोई सीमा नहीं

3. योजना में विकलांगता प्रतिशत की कोई सीमा नहीं



 कुष्ठ अवस्था योजना का उद्देश्य :-

विकलांग कुष्ठावस्था योजनाका उद्देश्य महत्वपूर्ण है इसमें रोगी को अधिक अनुदान  दिया जाता है ,जिससे उन्हें आर्थिक सहायता मिलती है इस योजना का मुख्य उद्देश्य कुष्ठ विकलांगो को सशक्त बनाना है, जिससे उन्हें किसी दूसरे पर निर्भर न होना पड़े क्योंकि कुछ परिवारों के व्यक्ति इन्हें  बोझ  समझते हैं, लेकिन इस योजना  से  विकलांगों को बहुत सहायता मिली है 



 कुष्ठ योजना की  पात्रता :-

1.  आयु न्यूनतम 1 वर्ष तथा अधिकतम 150 वर्ष होनी   चाहिए

2. ग्रामीण क्षेत्र में आय 46 और शहरी क्षेत्र में आय  56460 होनी  चाहिए 

3. यदि आवेदक किसी दूसरी योजना से लाभ प्राप्त करता है तो ऐसी अवस्था में वो योजना के लिए पत्र नहीं होगा 

ऑनलाइन आवेदन कैसे करें :-
  

ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको sspy-up.gov.in की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना है, और आपको दिव्यांग पैंशन वाले आप्शन पर क्लिक करना है,  अब आपको ऑनलाइन आवेदन वाले आप्शन पर क्लिक करना है, अब आपके सामने पूरा फॉर्म खुल जायेगा आपको इस फॉर्म को सावधानी  से  भरना है,  आप पूरी डिटेल भरकर व जो डॉक्यूमेंट अपलोड करने है वह अपलोड कर देने है सही साइज़ में यह फॉर्म आप कॉमन सर्विस सेण्टर पर जाकर आसानी से अप्लाई करवा सकते हैं


दिव्यांग पैंशन online  फॉर्म 




फॉर्म कहाँ जमा करें और कैसे सत्यापित होगा :-

फॉर्म ऑनलाइन करने के बाद  आपको आवेदन की हार्ड कॉपी और सभी डॉक्यूमेंट लेकर जो हमने डॉक्यूमेंट के सेक्शन में दिखाए हैं अपने जिले के जिला दिव्यांग जन कल्याण अधिकारी के ऑफिस में जमा करना है, इसके बाद जिला दिव्यांग जन कल्याण अधिकारी आवेदन को स्वीकृत व अस्वीकृत करेंगे इसके बाद pfms खाता सत्यापन होगा और फिर दोबारा सत्यापन होगा और आपकी प्रकिर्या पूर्ण हो जाएगी





आवेदन की स्थिति :-

आवेदन की स्थिति जानने के लिए आपको sspy-up.gov.in की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है ,अब आपको दिव्यांग पैंशन वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है, इसके बाद  आवेदक लॉगिन में क्लिक करके पैंशन स्कीम का नाम डालकर व रजिस्ट्रेशन नंबर  और रेजिस्टर्ड मोबाइल नंबर भर कर  सेंड otp पर क्लिक करना है, अब आपके रेजिस्टर्ड मोबाइल नंबर  एक otp जायेगा आपको उसे फिल करके कैप्चा कोड भर कर लॉगिन करना है, अब आपका अकाउंट लॉगिन हो जायेगा अब आप आसानी से   स्थिति चेक कर सकते हैं



आवेदन  की स्थिति 


आवेदन का प्रारूप कैसे देखें :-

 आपको गूगल में sspy-up.gov.in टाइप करना है इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का डैशबोर्ड ओपन होगा,इसमें आपको दिव्यांग  पेंशन वाली लिंक पर क्लिक करना है, इसके बाद आपको आवेदन का प्रारूप वाली लिंक दिखाई देगी उस पर क्लिक करके आप आवेदन का प्रारूप देख सकते हैं 

आवेदक लोगिन में क्या होता है :-
 
इस लिंक पर क्लिक करके आप अगर कोई चीज भूल गए हैं जैसे रजिस्ट्रेशन संख्या मोबाइल नंबर बैंक खाता आदि  आप इस ऑप्शन के द्वारा इन्हें दोबारा प्राप्त कर सकते हैं और आप अपना मोबाइल नंबर भी अपडेट कर सकते हैं , इसके लिए आपको आवेदक लॉगिन पर क्लिक करना होगा इसके बाद आपके सामने सभी लिंक  आ जाएंगे अब आप  अपनी आवश्यकता के अनुसार लिंक पर क्लिक करके जो डिटेल जिसमें मांगे फिल करके आप इन्हें फॉरगोट कर सकते हैं

यूजर मेनुअल  कैसे देखें :-

 यूजर मैन्युअल देखने के लिए sspy-up.gov.in की वेबसाइट पर जाना है, और आपको दिव्यांग  पेंशन की लिंक पर क्लिक करना है इसके बाद डाउनलोड वाले लिंक पर मैं मैनुअल पर क्लिक करना है, अब  आप  पूरा मैनुअल देख सकते हैं इससे आपको  फॉर्म  भरने में आसानी होगी


लिस्ट में नाम कैसे देखें :-

योजना की सूची देखने के लिए आपको गूगल में टाइप करना है sspy-up.gov.in अब आपके सामने वेबसाइट का  होम पेज ओपन होगा , अब आपको इसमें दिव्यांग  पेंशन वाले लिंक पर क्लिक करना है, अब आपके सामने पेंशनर सूची की  लिंक शो  हो जाएगी अब  आपको जिस वर्ष की भी सूची देखनी है उस लिंक पर क्लिक करके देख सकते हैं, अपना जिला चुनना है अपना ब्लॉक चुनना है, इसके बाद अपना गांव चुनना है, अब आप अपने गांव के लाभार्थियों के लिस्ट देख सकते हैं,

दिव्यांग पैंशन सूची



इसी तरह की कंप्यूटर, इंटरनेट, टेक्नोलॉजी टिप्स और ट्रिक आदि पोस्ट पढ़ने और सीखने के लिए हमारी वेबसाइट से जुड़े रहें।


Website  -  www.sadiktechnology.com


हम आप के लिए सरकारी योजनाएं और कंप्यूटर इंटरनेट टेक्नोलॉजी कंप्यूटर सोफ्टवेयर इंटरनेट टेक्नोलॉजी टिप्स और ट्रिक से रेलेटेड पोस्ट लाते रहेंगे। जिससे आपको कंप्यूटर इंटरनेट टेक्नोलॉजी व योजनाओं आदि के बारे में डिटेल में जानकारी मिलती रहेगी। इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के लिए ध्न्यवाद।


अगर आप को इस पोस्ट को पढ़ने के बाद भी मन में कोई  प्रश्न है तो आप हमें Comment कर सकते है हम आपकी  Comment का  Replay जरूर  देंगे। 

Conclusion   

उम्मीद करते हैं कि आप को पता चल गया होगा आपके मन में जो सवाल चलते रहते  होंगे की  विकलांग पेंशन योजना के क्या लाभ हैं विकलांग पेंशन योजना में दस्तावेज़ कोनसे लगते हैं, विकलांग पेंशन योजना ऑनलाइन करने का तरीका क्या है, इससे रिलेटेड जितने भी प्रश्न आप सोचते रहते होंगे उनका हल  हमने इस पोस्ट में दिया है। 
अगर आप को ये पोस्ट पसंद आई हो तो प्लीज इस पोस्ट को अपने दोस्तों को सोशल मीडीया पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। आप हमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम आदि पर Follow कर सकते हैं और आप हमें comment  भी कर सकते हैं जिससे आप को हेल्प मिल सके।



0 Response to "VIKLANG PENSION YOJANA KYA HAI विकलांग पेंशन योजना क्या है पूरी जानकारी हिंदी में "

एक टिप्पणी भेजें

Enter your comment . . .